रविवार, 10 जून 2012

भारतीय राजनैतिक दलों की छत्तीसी

भारतीय राजनैतिक दलों  की छत्तीसी  


1.परिवारवाद का दलदल
2.व्यक्ति ही सर्वेसर्वा
3.कुर्सी से चिपके नेता
4.देशहित से किनारा
5.मज़बूरी के गठबंधन
6.खोखला चरित्र
7.लोकव्यवहार की कमी
8.आम जनता से कोसों दूर
9.भ्रष्ट आचरण
10.जी हुजुरी
11.चाटुकारों की भीड़
12.सत्य को अनदेखा करने की प्रवृती
13.जातिवाद के समीकरण
14.धन का कुप्रयोग
15.जिसकी लाठी उसकी भैंस
16.अपराधिक गतिविधियों में लिप्तता
17.गलतियों के पुतले
18.ठीकरे दुसरो पर फोड़ने का स्वभाव
19.फटे में टांग अडाने में आगे
20.वचन भंग के दोषी
21.धूर्तता ही नीति
22.इन्द्रिय लोलुपता
23."आ बैल मुझे मार" वाले निर्णय
24."चलता है" तो बदलाव क्यों
25. देखना है! देख रहे है!!देखेंगे !!!
26.गंभीर निर्णय के समय टालमटोल 
27.आडम्बर में विश्वास
28.भाषण बाजी में अगाड़ी
29.अलग डफली अलग राग
30.झूठे का बोलबाला
31.वोट मेनेजमेंट
32.आंकडों की कलाबाजी
33.समय का दुरूपयोग
34.हवन में हड्डियाँ डालना
35.संवेदन हिन हर्दय
36.केंकड़ा वृती     

कोई टिप्पणी नहीं: