रविवार, 15 जुलाई 2012

स्मरण शक्ति को कैसे प्रखर किया जाए भाग -2

स्मरण शक्ति को कैसे प्रखर किया जाए  भाग -2


जब हम पढ़ते हैं तब लगातार पढ़ना चाहते हैं लेकिन यह पढने का सही तरीका नहीं है क्योंकि
मस्तिष्क को हमने जो पढ़ा है उसे सुरक्षित (save )करने के लिए कुछ समय चाहिए जो लगातार
पढने के कारण नहीं मिल पाता है इसलिए पढ़ते समय 45 से 50मिनट के बाद 10 मिनट का खाली
समय (break ) दे ताकि हमने जो पढ़ा है उसे मस्तिष्क save कर सके

रंग और इन्द्रियाँ

हमारी आँख रंग को पकडती है .पेंटिग रंगों का मिश्रण है ,सही रंग का चुनाव और संयोजन याद शक्ति
को बहुत प्रभावित करता है .यदि एक ही रंग की पेंटिग होगी तो हमे बहुत ज्यादा प्रभावित नहीं कर
पाती हम उसे शीघ्र भुला देते हैं लेकिन अच्छे रंगों के संयोजन से बनी पेंटिग हमें लम्बे समय तक
याद रहती है ,ठीक इसी तरह पढ़ते समय भी हमें विभिन्न रंगों का इस्तेमाल करना चाहिए .
        पढ़ते समय हमें तीन तरह की स्याही इस्तेमाल करनी चाहिए ,मुख्य पॉइंट का रंग अलग होना
चाहिए .विवरण लिखने के लिए अलग स्याही का इस्तेमाल होना चाहिए और अंडर लाइनिंग के
लिए अलग रंग की स्याही का प्रयोग करे .स्याही के रंग बार-बार बदले नहीं ,ताकि मस्तिष्क आसानी
से काम कर सके .

माइंड मेप बनाना

जब हम किसी पुरे चेप्टर को पहली बार पढ़ते हैं तो हमें तेज गति से पढना चाहिए और जिन शब्दों
को नहीं समझ पा रहे हैं उन पर undar line करते रहना चाहिए .जब हम चेप्टर को पूरा पढ़ लेते हैं तब
उन शब्दों पर ध्यान दे जिनका आशय हम समझ नहीं पाए हैं .कठिन शब्दों को समझने के बाद हमें
उस चेप्टर के मुख्य अंशो पर विभिन्न स्याही या पेन्सिल से high light  करना चाहिए जैसे-सीधी रेखा
कोण ,घुमावदार रेखा ,star या sign
माइंड मेप के लिए हमें सबसे पहले चेप्टर का  सारांश तैयार करना होता है उसके बाद सारांश को
अलग-अलग भागो में बाँट देना है जैसे
रामचरित -
बालकाण्ड -राम का जन्म सम्बन्धी जानकारी

अयोध्याकाण्ड -राम के विवाह और राजतिलक तथा वनवास

अरण्यकाण्ड - राम का वनवास

किष्किन्धाकाण्ड -सुग्रीव से मित्रता

सुन्दरकाण्ड -सीता की खोज

लंकाकाण्ड-रावण वध

उत्तरकाण्ड -राम का अयोध्या में राजतिलक

इसी तरह हमे भी हर चेप्टर के अलग-अलग link को क्रमबद्ध रूप से जोड़ते जाना है ..जैसे पूरा राम
चरित सात खंडो में सम्पूर्ण हो जाता है उसी तरह हमारा चेप्टर भी 8-10 भाग में पूरा हो जाना चाहिए .
सारांश इस तरह तैयार किया जाना चाहिए जिसे आप सहज रूप से याद रख सके ,वह शब्द ,कविता
गीत किसी भी रूप में लिखा जा सकता है ,रेखा चित्र बनाकर चित्रित किया जा सकता है.

Note कैसे तेयार  करे?


पुस्तक की हर line को ध्यान से पढ़े।


पंक्ति से आवश्यक सूचना ढूंढे .


सुचना को नोट करे 


विषय से सम्बन्धित दूसरी पुस्तको का अध्ययन करे 


Final note तैयार करे 


नोट का मंद मेप बनाए 


विभिन्न चिन्हों का Note में उपयोग करे 


विभिन्न Colour तथा Ink का उपयोग करे 


Recall Map-- 


mind map  को बनाने के पश्चात पुरे पॉइंट को मन ही मन दोहराए 


हमारा मस्तिष्क इस mind map को अल्प काल के लिए save करता है इसलिए दुसरे दिन उस Mind 
map को पुन:देखे और पॉइंट को मन ही मन 5-10मिनट के लिए दोहराए .इस क्रिया से मस्तिष्क 
इस चेप्टर को 5-7दिन तक याद रख सकता है .सात दिन बाद उस mind map का पुन:अवलोकन करे 
अब मस्तिष्क इस चेप्टर को महीने भर तक याद रख सकता है .एक महीने बाद इस Mind map का 
पुन: अवलोकन करे अब आपका मस्तिष्क लम्बे समय तक इस चेप्टर को Save कर लेगा .
जब हमें इच्छित चेप्टर को Recall करना हो तब उसके mind map के मुख्य Heading को याद करे 
वह चेप्टर पूरा का पूरा याद आ जाएगा।
    

कोई टिप्पणी नहीं: