मंगलवार, 23 अक्तूबर 2012

आम आदमी

आम आदमी 

 क्या रावन लँका में पैदा होते हैं ?

पता नहीं ,मगर यहाँ स्वदेशी का खूब चलन है !!
-----------------------------------------------------------------

विजया दशमी की शुभ कामनाएँ ,आम जनता को छोड़कर ... ?

क्योंकि आम जनता के पटाखे फूटते हैं!!

--------------------------------------------------------------- 

एक ही थेली के चट्टे-बट्टे , सिद्ध कीजिये ?

पक्ष और विपक्ष को गले मिलते देखिये !!

---------------------------------------------------------------

एक वचन या  बहु वचन - सदाचार और भ्रष्टाचार ?

सदाचार तो एक जैसा ही होता है पर भ्रष्टाचार तो बहुआयामी  रंगीला ..!!

---------------------------------------------------------------

भक्त - गुरूजी,सुख और दुःख कैसे जाने ?

गुरु-  जिसको सबने मिल कर चुना वह दुःख और जो चुना गया
         वह सुख।

-------------------------------------------------------------
गाँव-गाँव में फर्जीवाड़ा पहुंचाईये ?

सरल ,बस बाप ... आप मनरेगा को खूब  दूध पिलाईये !!

-----------------------------------------------------------------

"कोयला के सानिध्य" की करामात बतलाईये  ?

कोयला अन्दर से भी काला और बाहर से भी, मगर सानिध्य पाने
वाला अन्दर से काला और बाहर से धोल्ला !!

--------------------------------------------------------------

कानून अपना काम करेगा ?

.................आम आदमी पर !!

न्यायालय में देख लेंगे ?

...................आम आदमी को !!

कानून के हाथ लम्बे होते हैं ?

.................आम आदमी तक !!
------------------------------------------------------------  

कोई टिप्पणी नहीं: