गुरुवार, 14 मार्च 2013

तिकड़म

तिकड़म 

ढपोर -सर ,पहले शादी की उम्र सौलह साल की थी उसे अठारह क्यों किया गया?

सर- देश जनसँख्या की बढ़ती दर से झुंझ रहा था

ढपोर -सर,फिर अब  सेक्स की छुट सौलह साल से क्यों ?

सर- ताकि बलात्कार के मामलों को कम किया जा सके जिससे सरकारी रिकार्ड
       चमकदार रहे।

ढपोर -आपके कहने का तात्पर्य यह तो नहीं कि बलात्कार को आपसी सहमती
         बता दी जाए और नाबालिक के केस कम हो जाये।

सर- ...........,तो तेरे पास कोई हल है?

ढपोर - हाँ ,शादी की उम्र सौलह कर दी जाए और बच्चे पैदा करने की उम्र अठारह,
            ना बलात्कार, ना जनसँख्या विस्फोट और संस्कृति की रक्षा भी !!
    

कोई टिप्पणी नहीं: