सोमवार, 24 जून 2013

सलाम है सेना को यारा .........

सलाम है सेना को यारा .........


एक ओर नेताओं की टोली, एक ओर सैनिक है यारा
किसको करना है सेल्यूट ,मन को कौन लगे प्यारा

एक ओर झंडे सब दल के, एक ओर तिरंगा न्यारा
किसको करना है प्रणाम, मन को कौन लगे प्यारा

इधर नेता का जयघोष,उधर सेना का जय हिन्द
किस पर रखना है विश्वास, कौन है जनता को प्यारा

इधर नेता की आँख में आँसू, उधर शहीद दारा की धारा  
किसे देख छलकेगी आँखें ,तू ही तुझको तोल ले प्यारा

एक ओर हवाई दौरे हैं,एक ओर डटा है सैनिक यारा
किसे कहें पुरुषार्थ? बता दे कौन तेरी आँखों का तारा

इधर जहर उगलती बातें,उधर जान बचाने की जहमत
किस ओर चले दुआ मन की,तू ही तो बतला दे यारा

इधर बेजानो पर रण नीति,उधर जान बचाना ही नारा
महाकाल खड़ा उस ओर,जहाँ सेना ने है काल को मारा     

कोई टिप्पणी नहीं: