गुरुवार, 7 नवंबर 2013

चुनावी भाषण

चुनावी भाषण    

आपके दर्शन को नैन हर पाँच साल बाद प्यासे हो जाते हैं और मरते डूबते हर हाल 
में आपके किवाड़ खटखटाने पड़ते हैं। 

पीछे बैठे दादा सही फरमा रहे हैं कि मैं पिछली तीन यात्रा आपके तीर्थ की कर चूका 
हूँ मेने हर यात्रा पर इस तीर्थ के विकास की कहानी सुनायी थी ,इस क्षेत्र का विकास 
जरुर होगा जब मेरी अंतहीन कहानी खत्म हो जायेगी। 

मेने सबसे पहले इस तीर्थ की सड़क की बात करी थी और चौथी मरतबा भी मैं सबसे 
पहले सड़क कि बात ही करूँगा। पहली बार आपने जब मुझे चुना तो मेने यहाँ की सड़क 
का काम प्रमुखता से लिया था और आपको जानकर प्रसन्नता होगी कि काम प्रगति 
पर है ,काम अभी तक पूरा नहीं हुआ इसका कारण आपसे मेरा लगाव है यदि काम 
उस समय हो जाता तो आपके दर्शन का मुझे चौथी मरतबा सौभाग्य नहीं मिलता। 
यह टूटी सड़क और इसके गड्ढे मुझे हर बार आपको विश्वास बँधाने के काम आते हैं 

जब मैं दूसरी दफा आपके इलाके में आया था तब आपको पक्की सड़क के साथ 
बिजली देने का वादा किया था। मेरा मानना है कि ये सड़को के गड्ढे जैसे ही इतने 
गहरे हो जायेंगे कि बिजली के तार इन गड्ढो से खिंचवा दूँ इसलिए उस समय की 
राह देख रहा हूँ ,ये सड़क के गड्ढे गहरे हो जाए छठी मरतबा तक ताकि बिजली के 
तार ऊपर से लटकाना ना पड़े   

मैं जब पिछली मरतबा आया था तब सड़क ,बिजली और पानी तीनों की बात करी 
थी सड़क का काम प्रगति पर है ,बिजली कि व्यवस्था सड़क के साथ पूरी होने 
वाली है और पानी कि बात भी इन्ही सड़क के गड्ढो से ही पूरी होगी। मैं आशा 
करता हूँ कि सातवी बार तक ये गड्ढे छोटे छोटे सरोवर में तब्दील हो जायेंगे और 
बारिस के पानी के भरने से मिठ्ठे पानी कि व्यवस्था हो जायेगी। 

मैं इस मरतबा आपके पास सड़क,बिजली पानी के साथ रोटी कि व्यवस्था भी 
करने को आया हूँ। मैं जानता हूँ आप अभी तक इन सुविधाओ के बिना भी जिन्दा 
हैं ,वादे के जज्बे के साथ आपके जीने के अंदाज को सलाम करता हूँ और आपसे 
वादा करता हूँ कि इस बार बेड़ा पार लगाईये मैं आपको फोकट कि रोटियाँ तोड़ने 
के काबिल बना दूंगा ,भरपेट रोटी खाईये और चेन से पांच साल की झपकी 
लीजिये। 

भरपेट और फोकट में रोटी के सपने के आगे सड़क बिजली और पानी के क्या 
मायने रह जाते हैं। मैं आपके पेट तक फोकट में रोटी पहुंचाऊ इसके लिए मुझे 
कुर्सी तक आप पहुंचा दीजिये। हर बार आपने मेरे वादे को सुना ,समझा और 
सुकून लिया है ,इस बार भी इस गोल गोल रोटी के वादे पर भरोसा कीजिये। बस 
आप मुझे हर बार की तरह चौथी बार भी खूब वोट कीजिये 



कोई टिप्पणी नहीं: