मंगलवार, 8 अप्रैल 2014

गन्दी बात ……

गन्दी बात  …… 

भारत की गरीबी और भुखमरी भारत के लिए गन्दी बात है मगर उन वादा करने
वाले ढोंगियों पर अंधविश्वास करते रहना भी गन्दी बात होगी।

गरीब भारतीयों से छुपे हुए कर लगाकर लिए गए पैसे डकारना  गन्दी बात,मगर
देश की तिजोरी को खाली करने वालो को फिर से संसद में भेजना भी गन्दी बात
होगी।

गैस के सिलेण्डर बारह से नौ करना गन्दी बात थी क्योंकि सबसे ज्यादा सब्सिडी
तो पैसेवालों पर लूटा दी जाती है और नौ से बारह सिलेण्डर करना भी गन्दी चाल
थी। मुर्ख समझने वालों को सत्कार से संसद में बैठाना भी गन्दी बात होगी।

सीमा पर बहादुरों के शीश काट लिए जाए और हिन्दुस्तानी सल्तनत का खून नहीं
खोलना गन्दी बात थी ,हिन्दुस्थान में आतँक फैलाने वालो के लिए दुवा माँगना भी
गन्दी बात थी ,बहादुर शहीद शर्मा जी की शहादत बेकार चली गई तो गन्दी बात
होगी।

ईमानदार ऑफिसर का बार बार तबादला गन्दी बात है ,मगर ईमानदार ऑफिसर
के सवालों पर जनता  सही प्रतिसाद ना दे तो भी गन्दी बात होगी।

अल्पसंख्यको को विकास की ऊँचाई पर ना ले जाना भी गन्दी बात थी मगर उन्हें
तुष्टिकरण की अँधेरी खाई की ओर धकेलते जाना भी गन्दी बात है फिर भी अपनी
समझ को नहीं जगा पाना और वोट बैंक बने रहना भी गन्दी बात होगी।

गरीब भारतीय को 26 से 32 रूपये कमाने पर धनवान मान लेना गन्दी बात है
26 में गुजारा करने के लिए उन्हें अन्न दान माँगने के लिए मजबूर करना भी
गन्दी बात है। गरीब दान के सस्ते अन्न को खा कर अब भी सोता रहा तो भी
गन्दी बात होगी।

लुच्चे नेता को साहूकार बताने वाली खबरे बताते रहना गन्दी बात है मगर लुच्चो
को बचाने के लिए ईमानदारी का खौफनाक नाटक खेलना भी गन्दी बात है। इस
धूर्तता के नाटक को वास्तविकता समझना भी गन्दी बात है। राष्ट्रवादियों को
शासन चलाने से दूर रखने के लिए षड़यंत्र रचना भी गन्दी बात होगी।

चीन हमें आँख दिखाए ,पाकिस्तान साजिश रचे यह देश के लिए गन्दी बात है
मगर हम हुँकार भरने की जगह बिरयानी से उनका स्वागत करने वालो को
साँसद बना दे तो यह भी गन्दी बात होगी।

हमारा वोट ना करना भी गन्दी बात है मगर घुसपेठियों के मतदान के कारण कोई
राष्ट्रवादी हार जाए तो भी गन्दी बात होगी।    

कोई टिप्पणी नहीं: